30.5.21

तीन बकरियाँ



फसल कट चुकने के बाद

मालिक ने छोड़ दी

तीन बकरियाँ

खेत में

चरने के लिए


धूप में 

आगे-पीछे

देर तक चलते-चलते

न आया मुँह

किसी के

घास का एक तिनका


सबसे पीछे वाली ने

आगे चल रही दोनों बकरियों को 

उलाहना दिया..

मेरे हिस्से का भी खा लिया!

बीच वाली ने भी

स्वर में स्वर मिलाया..

मेरा भी!

आगे वाली ने माथा पीट लिया..

हाय!

जब बुरे दिन आते हैं

तो अपने भी

शक करने लगते हैं। 


अक्सर यही होता है

दूध

दुह लेने के बाद

छोड़े जाते हैं

बछड़े,

खेत काट लेने के बाद

छोड़ी जाती हैं

बकरियाँ।


अभाव में

एक दूसरे पर शक करते हुए

लड़ते/मरते रहते हैं

कमजोर प्राणी

समझ ही नहीं पाते

दूध 

कोई और दुह कर ले जाता है,

फसल

कोई और काट कर ले जाता है।

............

7 comments:

  1. आपकी लिखी रचना ब्लॉग "पांच लिंकों का आनन्द" बुधवार 02 जून 2021 को साझा की गयी है.............. पाँच लिंकों का आनन्द पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

    ReplyDelete
  2. सुंदर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  3. Wah! Apke dwara di gyi sabhi jankari bahut hi achhi hoti hai, jisse logo ko bahut hi madad milti hai, apse benti hai aap ese hi hum sab ki madad krte rahe, apka bahut bahut shukriya. Free me Download krein: Mahadev Photo

    ReplyDelete